Wednesday, April 22, 2009

तेढे हुए तो क्या? - पर खडे तो हैं

5 टिप्पणियाँ:

संजय बेंगाणी said...

बलखाती हसीना है यह तो :)

आशीष कुमार 'अंशु' said...

ADBHOOT HAI JI!

Udan Tashtari said...

गज़ब की लचक है जी..

SHUAIB said...

अरे यार दोस्तों
आप तीनों की टिप्पणीयों से लगता है कि किसी हसीना की तारीफ कर रहे हैं :D

अनिल कान्त : said...

majedar ..waah

Write in to your own language

1